होली पर निबंध : [ Holi Essay in Hindi ]

0
124
Spread the love

होली का प्रमुख त्योहार हमारे देश के प्रमुख त्योहारों में से एक है। होली का पावन त्यौहार हिंदू धर्म का प्रमुख त्योहार है जो कि पूरे भारतवर्ष में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। यह त्योहार हर साल फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस दिन लोग अपने पुराने से पुराने गिले-शिकवे भूलकर एक-दूसरे को रंग लगाते हैं इसीलिए यह त्योहार भाईचारे का संदेश भी देता है। इस दिन सभी लोग रंग व गुलाल लगाने के बाद गिले-शिकवे भूलकर एक-दूसरे के गले लगते हैं तथा इस दिन बच्चे तथा हर वर्ग के लोग रंग बिरंगे रंगों से होली खेलते हैं तथा बच्चे इस दिन बहुत मौज मस्ती करते हैं तथा बच्चे इस दिन गुब्बारों में पानी भरकर एक दूसरे के ऊपर फेंकते हैं जो कि वे होली के त्यौहार का पूरा आनंद उठाते हैं।

होली की मनाने की प्रक्रिया :-

होली के दिन कुछ ऐसी परंपराएं भी है जो कि हर साल होली के दिन निरंतर मनाई जा रही है उनमें से एक परंपरा यह भी है कि लोग प्रात उठकर रंगों को साथ में लेकर होली खेलने के लिए अपने मित्रों व रिश्तेदारों के घर चले जाते हैं तथा एक-दूसरे को होली की शुभकामनाएं भी देते हैं तथा उनके साथ होली का त्योहार बड़ी धूमधाम के साथ मनाते हैं।

होली का त्योहार सभी वर्गों के आयु के लोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण त्यौहार होता है परंतु बच्चों के लिए यह त्योहार बहुत महत्वपूर्ण होता है। बच्चों के मन में एक महीने पहले से ही उत्सुकता शुरू हो जाती है। बच्चे दो-तीन दिन पहले से ही अपने लिए होली खेलने का सामान इकट्ठा कर लेते हैं जैसे कि बच्चे बाजार से तरह-तरह की पिचकारिया तथा रंग बिरंगे गुब्बारे लाते हैं ताकि होली के दिन होली खेलते समय किसी भी तरह की कमी महसूस ना हो। बच्चे गुब्बारे में पानी भरकर एक दूसरे के ऊपर फेकते हैं तथा साथ ही पिचकारी मे पानी भरकर अपने मित्रों के साथ होली का पूरा आनंद उठाते हैं।

होली के त्योहार को लेकर महिलाएं भी बहुत उत्सुक रहती है। वे भी पुरुषों के मुकाबले होली खेलने के लिए अपने आपको पीछे नहीं समझती हैं। महिलाएं होली के पावन पर्व से 1 दिन पहले कई प्रकार की मिठाइयां तैयार कर लेती हैं ताकि होली के दिन होली की शुभकामनाएं देने के लिए आने वाले लोगों को मिठाइयों का सेवन करा सकें। महिलाएं होली के दिन प्रातः जल्दी उठती है वे तरह-तरह के पकवान बनाती हैं। वे अपने आस-पड़ोस की महिलाओं को इकट्ठा करके एक दूसरे के घर जाकर होली खेलते हैं तथा होली की शुभकामनाएं की शुभकामनाएं भी देती हैं